16 फ़रवरी 2008

डॉ० कुँअर बेचैन जी हिन्दी गौरव सम्मान से अलंकृत


गत बृहस्पतिवार दिनांक १४ फरवरी को उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान लखनऊ ने अपने वर्ष २००६ के विभिन्न पुरस्कारों की घोषणा की, यह पुरस्कार हिन्दी क्षेत्रीय साहित्यकारों को उनके साहित्य में किये गये योगदान के लिये दिया जाता है।

इन पुरस्कारों में इस वर्ष "हिन्दी गौरव सम्मान" के लिये 'डॉ० कुँअर बेचैन' जी को चुना गया है। जिसके तहत 'डॉ० कुँअर बेचैन' जी को २ लाख रूपये एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जायेगा, जो उनके हिन्दी गज़ल में किये नये प्रयोगों एवं अन्यविधाओं में दिये गये योगदान के लिये दिया जायेगा।
दिल के दरमियाँ और पाठकगणों की ओर से इस सम्मान के लिये उनको बहुत-बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभकामनायें...
डॉ० भावना

4 टिप्‍पणियां:

Mired Mirage ने कहा…

हमारी भी बधाई ।
घुघूती बासूती

Udan Tashtari ने कहा…

डॉ साहब को अनेकों बधाईयाँ एवं शुभकामनायें.

anuradha srivastav ने कहा…

बधाई .........

रवीन्द्र रंजन ने कहा…

बधाई हो डॉक्टर साहब