11 अगस्त 2006

१६ अगस्त को आने वाली जन्माष्टमी के पर्व पर कुछ हाइकु

1.

गैय्या से खेले
हैं, मैय्या की गोद में।
मोर निहारे।।

1 टिप्पणी:

SHUAIB ने कहा…

कृपया इसका मतलब भी समझा देते