27 दिसंबर 2007

कैसे बीता गाजियाबाद में ४ दिसम्बर का दिन चलिये देखते हैं

CLICK ON THE IMAGES BELOW TO SEE A BETTER AND CLEARER VIEW

गाज़ियाबाद
में ४ दिसम्बर का दिन ओमप्रकाश चतुर्वेदी पराग जी, बी० एल गौड़ जी, कमलेश भट्ट जी और व्योम जी के साथ हाइकु दिवस में मेरी पुस्तक "तारों की चूनर" के विमोचन के कुछ चित्र और खबरें... डॉ० व्योम जी के सहयोग से..

मित्रों की ख्वाहिश पर पुस्तक के कुछ अंश जल्दी ही पोस्ट करूँगी...


प्रवासी भारतीय हाइकुकार डा० भावना कुँअर (युगांडा) के हाइकु संग्रह तारों की चूनर का लोकार्पण करते हुए मुख्य अतिथि डा० जगदीश व्योम, अध्यक्ष ओमप्रकाश चतुर्वेदी पराग, विशिष्ट अतिथि बी०एल० गौड़ एवं संयोजक कमलेश भट्ट कमल



डॉ० भावना

4 टिप्‍पणियां:

राकेश खंडेलवाल ने कहा…

काम नहीं केवल अंशों से हमको पूरा पढ़ना है
हमें पता है इस पुस्तक की अद्भुत हर इक रचना हैrakeshkhandelwal1k

Lavanyam - Antarman ने कहा…

Bhawnaji,
Sachitra aalekh dene ka shukriya -

Taaron ki Chunar " naam bhee sunder hai, pustak padhne ka mann hai -- aapko bahut bahut badhayee.
aapka chitra bhee sunder hai.
sneh,
- lavanya

Dr.Bhawna ने कहा…

राकेश जी पुस्तक आप तक पहुँचाने की पूरी-पूरी कोशिश की जायेगी..
कोशिश तो यही रही है कि रचना सबको पसन्द आये बाकि तो आप लोग पढ‌कर ही बता सकेगें :)
बहुत-बहुत धन्यवाद...

Dr.Bhawna ने कहा…

लावन्या जी बहुत-बहुत धन्यवाद की आपको चित्रों सहित पुस्तक पसन्द आई...
आप इस पुस्तक पढ पायें जल्दी ही इसके बारे में कुछ किया जायेगा...आप लोगों का स्नेह देखकर अच्छा लगता है...