26 अक्तूबर 2006

दीपावली हाइकु

मेरी और मेरे परिवार की ओर से आप सबको दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें:


करो रोशन

बुझते चिरागों को

इस पर्व में।


जगमग है

दियों की कतार से

सारा आलम।


हँसी रोशनी

जीत पर अपनी

अँधेरा रोया।


रंगोली सजे

दीपों की रोशनी से

अँधेरा मिटे।


झूम रहे हैं

रंगीन कंदीलों से

घर आँगन।


सुख समृद्धि

लाये ये दीपावली

जन - जन में।


डॉ० भावना

14 टिप्‍पणियां:

mahashakti ने कहा…

हाईकू मय दीपावली की शुभकामनाऐ स्‍वीकार करें। यह पर्व आपके तथा आपके परिवार एवं मित्र को शुखिया प्रदान करे।

अनूप शुक्ला ने कहा…

बढि़या हायकू.दीवाली मुबारक.

Pratyaksha ने कहा…

दीपक कहे

जगमगाये जग

मेरे ही संग


शुभ दीपावली

NARENDER PUROHIT ने कहा…

diwali ka shubh din aaya
sabke liye khushiyan laya
Laxmi_Ganesh viraje aapke ghar
sada rehe SUKH ki chhaya aap par

NARENDER PUROHIT

प्रियंकर ने कहा…

ज्योति पर्व पर एक दीप मंगलकामनाओं का मेरी ओर से भी .

kunwar bechain ने कहा…

priya bhawna aashirvad.

haiku, ghazlein , tatha kuchh atukant kavitayen padhi. sabhi bahut achchi aur bhavpurn. vartman sthitiyon evakm paristhitiyon per tum jo likh rahi ho vo ek rachnakar ke jagrook hone ka parichay deta hei. ese hi achcha achcha likhti raho.

kunwar bechain.

Udan Tashtari ने कहा…

सुंदर हाईकु हैं, बधाई.

दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें एवं बधाई.

-समीर लाल

Santosh Kumar Singh ने कहा…

Bhawana Ji
'DEEP PARVE' ke sunder haikus aur sunder chitroN
ke liye aapako badhayee.

DEEPAWALI KEE AAPAKO AUR AAPAKE PARIWAR KO MERI
BAHUT-BAHUT SUBHKAMNAYEN.
Santosh Kumar Singh

Dr.vyom ने कहा…

Dr. Bhawna ji
Diwali par sunder Haiku kavityon ke dwara shubhkamnayen dene ke liye hardik dhanybad....
Diwali par Aapko aur Aapke pure parivar ko bahut bahut shubhkamnayen
Dr.vyom

डॉ० भावना ने कहा…

महाशक्ति जी, अनूप जी, प्रत्यक्षा जी, नरेन्द्र जी, प्रियंकर जी, बेचैन जी, समीर जी, संतोष जी, व्योम जी बहुत बहुत शुक्रिया और दिपावली की शुभकामनायें आप सबको भी मेरी ओर से।

डॉ० भावना

उडन तश्तरी ने कहा…

सुंदर हाईकु हैं.
आपको भी दिवाली की शुभकामनायें.

राकेश खंडेलवाल ने कहा…

जितने सुन्दर लिखे हायकू उतने सुन्दर चित्र बनाये
दीवाली के, रांगोली के, सारे ही इस मन को भाये
दिये और कंदील, साथ में आतिशबाजी है मनमोहक
आप सदा ऐसी रचना से अपना चिट्ठा रहें सजायें

DR PRABHAT TANDON ने कहा…

हाईकु के बारे मे मुझे अधिक नहीं मालूम कि यह क्या बला है, अभी कुछ दिन पहले मै समीर लाल जी से भी यह पूछ रहा था लेकिन हाँ, कविता पढने मे अच्छी लगी और चित्र तो और मनोहर लगे। आपको भी दीवाली की शुभकामनायें।

Pramendraps ने कहा…

हाइकू मय दीपावली की शुभकामनाऐ